संदेश

प्रथम देवी ‘शैलपुत्री’ को करें प्रसन्न, देंगी अमोघ शक्तियां ॥भाग जाएगी घ...

चित्र

Alaukik Upchar to Dissolve Kidney stone Gallbladder stone Urinal Stones ...

चित्र

Alaukik Upchar to Dissolve Kidney stone Gallbladder stone Urinal Stones ...

चित्र

Alaukik Upchar to Dissolve Kidney stone Gallbladder stone Urinal Stones ...

चित्र

योगा और मेडिटेशन से मेमोरी होती है ते़ज

चित्र
आजकल की लाइफ स्टाइल में देर से सोना, तनाव, जंक फूड जैसी कई आदतों के चलते कम उम्र में भी याददाश्त कमजोर होने लगती है। दिमाग तेज करने के लिए मेंटल एक्सरसाइज करना बहुत जरूरी है। योग न केवल शारीरिक बल्कि मानसिक एक्सरसाइज भी है। इसका शरीर को स्वस्थ्य रखने में काफी महत्व होता है।
याददाश्त प्रत्येक व्यक्ति के ध्यान लगाने की क्षमता पर निर्भर करती  है। किसी भी बात को याद करने के लिए अगर जरूरत से ज्यादा समय लग रहा है तो इसका मतलब ये होता है कि व्यक्ति ध्यान लगाने में सक्षम नहीं है या उसका दिमाग हर जगह बट रहा  है। कई बार लोगों को भूलने की बीमारी हो जाती है। और उनको कुछ याद नहीं रहता है. याददाश्त को सुधारने के लिए सबसे सही जरिया योग को माना जाता है। इसको शांत रखना बेहद जरूरी होता है। महार्षि पतांजली (जो योग पिता कहलाए) के अनुसार- “योग चित्त वृत्ति निरोध” इसका मतलब है योग से मन शांत होता है और विचलित नही होता है । उन्होंने कई सारी तकनीकि जैसे योग निद्रा, प्राणायाम और आसन का अविष्कार किया।
स्मरणशक्ति बढ़ाने के लिए बाजार में बहुत सारे प्रोडक्ट्स मिलते हैं। यह अच्छे भी हो सकते हैं और बुरे भी। सच पूछें त…

किडनी रोग के लक्षण और बचाव

चित्र
किडनी रोग के लक्षण और बचाव, यह एक अत्यन्त गंभीर एवं जरूरी विषय है आज के परिद्र्श्य में. चूँकि आज हर पाँचवाँ व्यक्ति किडनी की किसी न किसी खराबी अथवा समस्या से रूबरू हो रहा है, जिसमें सबसे प्रमुख हैं किडनी फेफियर, किडनी में पथरी और किडनी इंफेक्सन्.
किडनी यानि गुर्दा हमारे शरीर का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग होता है जिसका कार्य शरीर में विषाक्त पदार्थो को छानकर मूत्र के रूप में बाहर निकालता है. एक तरह से किडनी हमारे शरीर में रक्तशोधक का कार्य भी करती है हमारे अंदर खान पान के बाद जो भी विषैले पदार्थ रह जाते है उनको किडनी बहार निकलती है.

गुर्दे की विफलता के लक्षण हाथ पैर व आँखों के नीचे का भाग में सुजन आ जाती है!ऑक्सीजन का कम होना और जिसके कारण चिड़चिड़ापन और एकाग्रता में कमी आए तो किडनी के बीमारी के लक्षण है।रोगी को भूख नहीं लगती है और शरीर में खून की कमी होने लगती हैशरीर पीला पड़ जाता है व उलटी होने के साथ जी मचलाता हैसांसे फूलने लगती है और हाजमा भी खराब रहता है मूत्र का त्याग करने के वक्त दर्द होनाअगर किडनी खराब है तो लंग्स में फ्लूइड जमने लगता है जिसके कारण साँस लेने में असुविधा होने लगती है।यदि…